मजबूरी का फायदा उठा रही रेलवे, सामान्य ट्रेन का परिचालन छोड़ तेजस जैसे प्रीमियम ट्रेनों का परिचालन कर रही रेलवे

0

नई दिल्ली यात्रियों की बढ़ रही भीड़ को देखते हुए नई दिल्ली से लखनऊ के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express) को सप्ताह में चार दिन की जगह छह दिन चलाने का फैसला लिया गया है। इससे आने वाले समय में त्‍यौहारों के मौसम में यात्रा करने वाले यात्रियों को राहत मिलेगी। (ads1)

भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आइआरसीटीसी) द्वारा संचालित तेजस एक्सप्रेस का किराया शताब्दी से ज्यादा है। पिछले दिनों यात्रियों की कमी के कारण इसे छह से चार दिनों के लिए चलाने का फैसला किया गया था।


अब चूंकि यात्रियों की भीड़ बढ़ने लगी है और लखनऊ जाने वाली ट्रेनों में यात्रियों को कंफर्म टिकट मिलने में परेशानी हो रही है। इसे देखते हुए तत्काल प्रभाव से इसे छह दिन चलाने का आदेश जारी कर दिया गया है।

मालूम हो कि भारत में इस वक्‍त तेजस की आठ ट्रेनें चलती हैं। इसकी शुरुआत भारतीय रेलवे की सब्सिडियरी कंपनी आइआरसीटीसी ने की है। तेजस की एक ट्रेन नई दिल्‍ली से लखनऊ के लिए चलती है, दूसरी लखनऊ से नई दिल्‍ली के लिए चलती है, तीसरी तेजस मुंबई छत्रपति महाराज टर्मिनस से करमली के लिए चलती है, चौथी करमली से मुंबई तक आती है, पांचवीं चेन्‍नई एग्‍मोर से मदुरै के बीच चलती है, छठवीं मदुरै से चेन्‍नई एग्‍मोर स्‍टेशन तक का रास्‍ता तय करती है, सातवीं तेजस अहमदाबाद से मुंबई और आठवीं मुंबई से अहमदाबाद के बीच दौड़ती है।

तेजस एक्‍सप्रेस की खूबियां

तेजस कई सारी आधुनिक सुविधाओं से लैस है। ट्रेन में एग्‍जीक्‍यूटिव और चेयर क्‍लास श्रेणी की बोगियां हैं। इसमें यात्रियों को वाइफाइ की सुविधा मुहैया कराई जाती है ताकि उनके मनोरंजन में कोई कमी न हो। इसके अलावा हर सीट पर एलसीडी स्‍क्रीन लगे होते हैं, यात्रियों को अच्‍छा खाना मिलता है, सीसीटीवी कैमरों से यात्रियों की सुरक्षा का भी इसमें पूरा ख्‍याल रखा जाता है। इसके साथ ही साथ  हर डिब्बे में चाय व कॉफी की वेंडिंग मशीन भी लगी है। (ads2)

सिर्फ मंगलवार को यह ट्रेन नहीं चलेगी। 24 अक्टूबर को दिवाली के दिन यह नहीं चलेगी। इस कारण 25 अक्टूबर (मंगलवार) को इसे चलाने का फैसला किया गया है। इसी के साथ आज (गुरुवार) नई दिल्ली-गया महाबोधि एक्सप्रेस रद्द रहेगी।

अधिकारियों का कहना है कि सासाराम के पास मालगाड़ी के दुर्घटनाग्रस्त होने से ट्रेनों की आवाजाही बाधित हुई है। इस कारण गुरुवार को महाबोधि एक्सप्रेस को निरस्त करने का फैसला किया गया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top